इश्क़ कर लीजिये बेइंतेहा किताबों से, एक यही हैं जो अपनी बातों से पलटा नहीं करतीं।

हम उनसे तो लड़ लेंगे जो खुले आम दुश्मनी करते हैं...लेकिन उनका क्या करे जो लोग मुस्कुरा के दर्द देते हैं...

समय, सत्य, सम्पति और शरीर चाहे साथ दे न दे…..लेकिन स्वभाव, समझदारी और सच्चे सम्बन्ध हमेशा साथ देते है....🙏

हमने तुम्हें उस दिन से और ज़्यादा चाहा है, जबसे मालूम हुआ के तुम हमारे होना नहीं चाहते...

दुनिया मे कोई किसी का नही होता..लाख निभाओ रिश्ता कोई अपना नही होता...

सबसे बेहतरीन नज़र वो हैं, जो.... अपनी कमियों को देख सके 🙏

ज़िन्दगी में इतना मुस्कुराओ की ज़िन्दगी भी देखकर मुस्कुरा उठे

साथ वही है जो...दूर रह कर भी महसूस होता है.....

सिंगल रहना मंजूर है लेकिन अपने मज़े और टाइम पास के लिए किसी के साथ खिलवाड़ करना मंजूर नही ।।

जहाँ हमारी क़दर ना हो ,वहाँ रहना फिज़ूल है.... चाहे किसी का घर हो ,चाहे किसी का 💘 दिल...

जिंदगी कुछ ख्वाब तुम ने तोड़ दिए, और कुछ हमने देखने छोड़ दिए..

तुम शब्दों की बात करते हो, यहाँ जज़्बात बिखरे पड़े हैं।

वो बात कुछ और थी जब हम साथ थे ❤️

तुम्हारी हंसी कभी कम न हो यह आँखे कभी नम न हो तुमको मिले ज़िन्दगी की हर ख़ुशी भले उस ख़ुशी में शामिल हम न हो

ज़िन्दगी में कभी कभी ऐसे पल भी आते है जहाँ इंसान या तो पूरा डूब जाता या तो पार उतर जाता।

जो तुम्हे सच में चाहेगा वो तुमसे कुछ नहीं चाहेगा

सवाल करने वाले तो बहुत मिलते है , लेकिन बिना सवाल किये ख्याल रखने वाले नसीब से मिलते है

गलतफहमी में जीने का मजा ही कुछ और है वरना हकीकते तो अक्सर रुला ही जाती है..

मुड़कर नहीं देखते .....अलविदा के बाद ...कई मुलाकातें ...बस ...इसी गुरुर ने खो दीं ...

मेरे अल्फ़ाज़ ही मेरा किरदार बताते है..किसी के दिल को छूते है और किसी के दिल को लग जाते है...

वक़्त निकल जाने के बाद कदर की जाए तो वो कदर नहीं अफ़सोस कहलाता है

प्यार करने वाले बहुत मिलेंगे, हमे तो साथ देने वाला चाहिए

ज़रा सी दोस्ती कर ले.. ज़रा सा हम नशी बन जा, थोडा तो साथ दे मेरा ...फिर चाहे अजनबी बन जा

मुझे रात को सूरज नहीं दिखाई देता क्या यही अंधा प्यार है ?

शिकायत नही करनी बस इतना सुन लो.. मैं खामोश हूँ, और वजह तुम हो..

तू जिस रफ्तार से निकल रही है जिंदगी , एक चालान तो तेरा भी बनता है.....

रिश्तों में निख़ार सिर्फ हाथ मिलाने से नहीं आता ,विपरीत हालातों में हाथ थामें रहने से भी आता है...

कुछ लोग बहुत अच्छे होते है लेकिन सिर्फ शक्ल के ।।

जिंदगी थम सी गई है..पर वक्त है कि फिसलता ही जा रहा है 👈

बोझ सीने पे बहुत है... पर मुस्कुरा देने में क्या लगता है.

कोई भी रिश्ता न होने पर भी जो रिश्ता निभाता है....वो रिश्ता एक दिन दिल की गहराइयों को छू जाता है....

सब रिश्ते को परख लिया बस नतीजा एक ही निकला की जरूरत ही सब कुछ है रिश्ते तो कुछ भी नहीं