अगर , मगर , और काश में हूँ, मैं ख़ुद अपनी तलाश में हूँ ❤️

135

ऐसी सुबह न आए न आए ऐसी शाम, जिस दिन जुबा पे मेरी आये न शिव का नाम..🙏🙏

153

मंज़िल मौत है, सफर के मज़े लो..❤️💯

265

कहीं रूह का होता है ,कहीं जिस्म का होता है, इस जहाँ में इश्क़ भी दो किस्म का होता है 💯

101

एक अधूरे इश्क की दास्तां हम भी सुनाएंगे, रुको ज़रा दिल टूटने दो फिर बतायेगे |💔

90

दिल ❤️ तो हर किसी के पास होता है, लेकिन सब दिलवाले नहीं होते !!💯

88

हर बार मुझे जख्म-ए जुदाई न दिया कर ,अगर तू मेरा नहीं तो मुझे दिखाई न दिया कर।।😊😊

67

फिर कुछ ऐसे भी मुझे, आजमाया गया, पंख काटे गये, और आसमान में उड़ाया गया।।❤️

52

इजहार ए मोहबत बेधड़क होनी चाहिए, इश्क़ हो जा चाय ☕ कड़क होनी चाहिए।

51

जो तुम्हे समझता हो और तुम्हे समझाता हो... उससे बेहतर कोई हमसफर नहीं हो सकता .

103

ना पुछो मेरा मजहब , मेरे पास तो कलम है , जो भी में लिख दु , वहीं मेरा धरम हैं ।।

29

टूटी चीजे हमेशा परेशान करती हैं, जैसे दिल नींद, भरोसा और सबसे ज्यादा किसी से उम्मीद

67

दूसरी मोहब्बत अक्सर उसी से होती है.. जिसे आप पहली मोहब्बत का रोना सुना रहे होते हैं…

79

जहां शिव जी का वास है, वो स्थान स्वर्ग से भी खास है...🥰🙏

153

नफरत है गुरुर नहीं ,दुबारा इश्क मंजूर नहीं..🙏🙏

118

हरकतें थी उसकी इश्क़ वाली और नाम दोस्ती का देता था !!🥰🥰

91

इश्क का जिसको ख्वाब आ जाता है, समझो उसका वक़्त खराब आ जाता है;❤️

36

कोई तो हमदर्द ऐसा हो, जिसका दर्द मेरे जैसा हो !!😊😊

71

खमोशी 🤫 बहुत कुछ कहती है, कान 👂 लगाकर नहीं दिल ❤️ लगाकर सुनो !!

78

ये महोबत के हादसे अकसर दिलों को तोड़ 💔 देते हैं , तुम मंजिल की बात करते हो, लोग राहों 🛣️ में छोड़ देते हैं!!

56

“तू करता वोह है जो तू चाहता है , पर होता वोह है जो अल्लाह चाहता है .”💯💯

66

कैसे करें हवा से वफा की उम्मीद, इन्हें तो पल में रुख बदलने की आदत हैं !!💯❤️

42

ये शायरी और मोहब्बत एक जैसी है ,हर किसी के साथ नहीं होती !!❤️

23

सोच का अंधेरा रात के अधंरे से ज्यादा खतरनाक होता है !!💯💯

43

जिस सच को सही वक्त पर न बताया जाए, वो एक दिन झूठ बन जाता है।।💯

68

आजकल मोहबत कटी 🪁 पतंग सी है साहब,, गिरती वहीं है, जिसकी छत 🏘️ बड़ी हो।।

46

तेरी दुआओं का अजब दस्तूर ही है ऐ मेरे मालिक मोहब्बत उन्हीं को मिलती है जिन्हें निभानी नहीं आती !!💯💯

24

देखकर मुझको तेरा यूँ पलट जाना। नफरत बता रही है, कि तूने मोहब्बत गजब की थी।❤️❤️

55

👀 नज़र और नसीब का भी क्या इत्तेफाक है यारों, नज़र 👀 उसे ही पसंद करती है जो नसीब में नहीं होता !! 💯

70

कोशिशें बहुत की समझदार बनने की, लेकिन खुशियाँ 😊 हमेशा बेवकफियाँ करने से ही मिली 💯

47

तारीफ़ के मोहताज नही होते,सच्चे लोग क्यूकी, असली फूलो पर कभी इत्र नही लगाया जाता | 💯💯

46

इश्क़ और प्यार में फ़र्क होता है, मेरे दोस्त लोग प्यार में धोखा देते हैं, और इश्क़ में जान ❤️💯

44