रोज़ ख्वाबो मे जीता हूँ, वो ज़िन्दगी... जो तेरे साथ मेने हकीकत मे सोची थी..🥺🥺

32

ख़त्म हो गए उन लोगों से रिश्ते भी, जिनसे मिलकर लगता था, ज़िन्दगी भर साथ देंगे 🥺🥺

44

क्या खूब मजबूरियां थी मेरी भी.. अपनी खुशी को छोड़ दिया” उसे" खुश देखने के लिए 💔💔

42

एक हलकी सी मुस्कुराहट से शुरू हुई मोहब्बत, हज़ार आँसू बहाने पर भी खत्म नहीं होती 😥🥺

26

तेरी बेरुखी ने छीन ली है शरारतें मेरी..और लोग समझते हैं कि मैं सुधर गया हूँ..!!!😥😥

25

हमारे पास तो बस #तेरी यादें है,ज़िन्दगी तो उसे #मुबारक हो जिसके पास तुम हो |💔💔

33

“रिश्तो को वक़्त और हालत बदल देते है, अब तेरा ज़िकर होने पर हम बात बदल देते है।”😊😊

38

हम तो बस कलम से दिल का हाल लिखते है, और लोग कहते है कि आप कमाल लिखते है 💯

24

बदल जाते है वो लोग वक़्त की तरह, जिन्हें हद से ज्यादा वक़्त दिया जाता है..💯

38

देता सब कुछ है ✒ खुदा हमें, पर जिसे चाहो उसे छोड़कर...🔥

27

आज एक ख्वाब ने बड़ी नजाकत से पूछा मुझसे... पूरा करोगे या टूट जाऊ 😊😊

38

तू इश्क💗की दूसरी निशानी देदे मुझको,आँसू👀तो रोज गिर के सूख जाते हैं..!!

26

कहीं बाजार में मिल जाये तो लेते आना…वो चीज़ जिसे दिल💗का सुकून कहते हैं…!!

19

तेरी यादो को पसन्द आ गई है मेरी आँखों👀की नमी…हँसना😁भी चाहूँ तो रूला😥देती है तेरी कमी…!!

43

आखिर तूने मेरी जिन्दगी को अधूरा कर दिया…वाह रे मोहब्बत💗तूने अपना काम पूरा कर दिया😭…!!

23

किसी से नाराजगी इतने वक्त🕰️तक ना रखो कि वह तुम्हारे बगैर ही जीना सीख जाए…!!😥

26

कौनसा अंदाज़ है ये👩तेरी महोब्ब्त का💗, ज़रा हमको भी समझा दे…मरने से भी रोकते हो, और जीने भी नहीं देते..!!

29

बहुत डर लगता है उन लोगो से जो बातों में मिठास और दिलो में जहर रखते हैं |💯

29

बिन धागे की सुई सी बन गई है ये ज़िंदगी, सिलती कुछ नहीं, बस चुभती चली जा रही है…🥺

24

जब प्यार नहीं है तो भुला क्यों नहीं देते, ये ख़त किसलिए रखे हैं जला क्यों नहीं देते |❤️‍🔥

19

उनकी नफरत बता रही है, हमारी मोहब्बत गज़ब की थी 😊

35

तुम नहीं मिले तो क्या हुआ सबक़ तो मिल गया| 💔

20

तुम तो रह लेते हो हमारे बिना पता नहीं, हमसे क्यों नहीं रहा जाता तुम्हारे बिना |🥺

33

मिल ही जाएगा कोई ना कोई टूट के चाहने वाला,अब शहर का शहर तो बेवफा हो नहीं सकता| 💯

18

तू भी आईने की तरह बेवफा निकला, जो सामने आया उसी का हो गया ❤️

14

देखी है दरार आज मैंने आईने में..पता नहीं शीशा टुटा हुआ था या फिर मैं 🥺

19

खुद को माफ़ नहीं कर पाओगे, जिस दिन जिंदगी में हमारी कमी पाओगे |❤️

19

इंतजार है मुझे जिंदगी की आखिरी पन्ने का सुना है, अंत में सब ठीक हो जाता है |😊

24

थोड़ा और बताओ ना मुझे मेरे बारे में, सुना है बहुत अच्छे से जानते हो तुम मुझे ।।😊

24

हम तो बस जरूरत थे, जरूरी तो कोई और था | 🥺

95

जिंदा हूँ तब तक तो हालचाल पुछ लिया करो, मरने के बाद हम भी आजाद तुम भी आजाद |💔

53

मेरे आँसुओं के दाम तुम चुका नहीं पाओगे, मोहब्बत न ले सके तो दर्द क्या खरीद पाओगे।❤️

42